Category

Lifestyle

Category

Making a decision is a part of our daily life. Every single day we make some sort of decisions. Research data provided by Columbia University says we make over 70 decisions every day. This may sound too much to you, but it’s true. Those decisions include everything such as what to eat, what to wear, where to go, what to do, etc. Some decisions are easy to make, while some are way too difficult —…

Accepting the truth is one of the bravest things a man can do. But not everyone is brave enough to accept the truth, because balancing aspirations with reality is one of the most difficult tasks. Sometimes people don’t intend to face the truth because the truth is not as comfortable as lies. Based on my experience and observation, I want to share those truths with you that people do not accept. Maybe you won’t agree…

ज़िन्दगी में जैसी जैसे हम बड़े होते हैं, अपनी मासूमियत खोने लगते हैं. हमारी उत्सुकता और कल्पनाएँ भी बचपन की तरह नहीं होती. हम बड़े होते ही अपने लुक्स, पॉपुलैरिटी और सक्सेस के बारे में सोचने लगते हैं. हम एक दुसरे से कॉम्पटीशन भी करते हैं. यहाँ तक की हम सोशल मीडिया पर अपनी रैंक और स्टेटस जैसी चीज़ों को लेकर भी चिंतित रहते हैं. हम अपनी ही एक छोटी सी दुनिया बनाने की कोशिश…

पॉजिटिव थिंकिंग सुनने में तो एक सामान्य सी बात लगती है लेकिन हमारे जीवन में इसका बहुत ही असामान्य असर होता है. कहते हैं जो हम सोच सकते हैं वो हम कर भी सकते हैं. तो क्यूँ न कुछ बेहतर सोचा जाए और कुछ बड़ा किया जाए? वैसे तो पॉजिटिव सोचने या पॉजिटिव थिंकिंग रखने के कई फायदे हैं लेकिन हम यहाँ 7 ऐसे फायदों की बात करेंगे हमारी शख्सियत को और भी बेहतर बना…

लोग अक्सर सक्सेसफुल होने की बात करते हैं. हम भी अपने आर्टिकल्स में अक्सर करते हैं क्यूंकि लाइफ में सक्सेस हासिल करना बेहद ज़रूरी है. भले ही वो किसी भी फील्ड में हो. सक्सेस का मतलब सिर्फ बड़ा बन जाना या अधिक पैसे कमाना ही नहीं बल्कि इससे कहीं बढ़ कर है. अलग-अलग लोगों के लिए सक्सेस का अलग-अलग मतलब होता है। आपके लिए सक्सेस का क्या मतलब है, अगर आप चाहे तो कमेंट्स सेक्शन…

I am not a product of my circumstances. I am a product of my decisions. स्टीफन कोवी के द्वारा कही गयी इस लाइन का मतलब है कि ‘मैं अपने परिस्थितियों कि उपज नहीं हूँ। मैं अपने निर्णयों कि उपज हूँ।’ बेशक इस लाइन का शाब्दिक अर्थ ये नहीं है लेकिन कहने का मतलब यही है। कोलंबिया यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च में पाया गया था कि हम एक दिन में 70 से भी ज्यादा डिसिशन लेते…

सामान्य तौर पर, फेलियर की परिकल्पना में बहुत सी गलतफहमीयां होती हैं जिन्हें हमें ठीक से समझने की ज़रुरत है। वास्तव में फेलियर जैसी कोई चीज़ नहीं होती। तब तक नहीं जब तक आप अपने फेलियर से कुछ सीख नहीं लेते। कहने का मतलब ये है कि लाइफ में जब कभी भी हम फेल होते हैं तो हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है और जो अपने फेलियर से भी कुछ नहीं सीख पाता, वास्तव…

सक्सेसफुल होने के लिए कभी-कभी लाइफ में कुछ जोड़ने की नहीं बल्कि कुछ चीज़ों को छोड़ने की ज़रुरत होती है। वैसे तो सक्सेसफुल होने का मतलब हम सभी के लिए अलग होता है लेकिन कुछ चीज़े ऐसी होती हैं जो हम सभी में कॉमन होती हैं। अगर आप भी अपनी लाइफ में सक्सेसफुल बनना चाहते हैं तो इन आदतों को आज हो छोड़ दीजिये। अनहेल्दी लाइफस्टाइल छोड़ दीजिए अगर आप अपनी लाइफ में कुछ भी…

बेहतरीन सवालों और उनके जवाबों से ही ज़िन्दगी को सही मायने मिलते हैं। कहने का अर्थ ये है जब तक हमें लाइफ से जुड़ी सही सवालों के सही सवाब नहीं पता होंगे। तब तक हम अपनी लाइफ को सही दिशा में नहीं ले जा सकते हैं। निचे दिए 6 सवालों पर गौर करें और उनका जवाब जाने की कोशिश करें। मुझे उम्मीद है ये 6 सवाल आपकी लाइफ में भी कुछ बदलाव ज़रूर लेकर आयेंगे।…

ज़िन्दगी की बहुत सी समस्याओं का समाधान हमारे ही सवालों के जवाबों में छुपा होता है. लेकिन क्या हम अपने आप से सही सवाल पूछ पाते हैं? और अगर पूछते भी हैं तो क्या हमें उन सवालों के सही जवाब मालूम होते हैं? आज हम ऐसे ही कुछ सवाल खुद से और आप से भी पूछेंगे और उनके जवाब भी जानने की कोशिश करेंगे. ये सवाल ऐसे हैं कि अगर हमें इनका सही सवाब मिल…