जब भी कभी आप सुनते हैं ‘स्मार्ट’ व्यक्ति तो आपके मन में क्या आता है? शायद आपके दिमाग में भी एक बुद्धिमान व्यक्ति की छवि उभर आती होगी जो सामान्य टेस्ट्स में अच्छा स्कोर कर लेता होगा। लेकिन स्मार्ट होना इससे कहीं बढ़ कर है।

स्मार्ट लोगों में बस इतना ही नहीं बल्कि दयालू, कल्पनाशील, विनम्र और सराहनीय भी होते हैं। वो खुद को इस बड़ी सी दुनिया का एक छोटा सा हिस्सा मानते हैं जिन्हें पता होता है कि उनके पास कुछ महान करने की क्षमता है।

तो कौन से ऐसे काम हैं जो स्मार्ट लोग कभी नहीं करते?

1. वो पैसे बचाने की संभावना को नज़रअंदाज़ नहीं करते

बचत करना एक गुण है, इसे लालच या कंजूसी से ना जोडें। अनावश्यक खर्चों से बचना और अपने फाइनेंस को ठीक तरह से मैनेज करना अपने आप में एक सराहनीय काम है। एक छोटे से उदाहरण से आप समझ सकते हैं, जब भी आपके पेन की इंक ख़तम हो जाती है तो आप क्या करते हैं? हम में से ज़्यादातर लोग एक नयी पेन करीद लेते हैं जबकि हम में से कुछ लोग नया रिफ़िल ले लेते हैं – पैसा बचाना, पैसे कमाने के बराबर ही होता है।

2. वो अपने पास्ट की गलतियों को अपने प्रज़ेंट पर हावी नहीं होने देते

स्मार्ट लोग इस बात को अच्छे से जानते हैं कि फेलियर, विकास का एक एहम हिस्सा है। बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने पास्ट इवेंट्स के बारे में सोचते रहते हैं और यही वजह है जो उन्हें कुछ महान करने से रोकता है। स्मार्ट लोग ऐसा नहीं करते, वो सोचते हैं जो हो चूका है उसे बदला नहीं जा सकता, वो अपने फेलियर्स को भी एक मौके के रूप में देखते हैं जो उन्हें और भी बेहतर बना देता है।

3. वो दूसरों पर निर्भर नहीं रहते

दोस्त, परिवार या किसी रिलेटिव पर निर्भर रहने में कोई बुराई नहीं लेकिन पूरी तरह से किसी पर निर्भर रहना बुरा है। वैसे तो हम सभी की लाइफ में कोई न कोई ऐसा होता है जिस पर हम निर्भर रहते हैं या फिर ऐसा मान के चलते हैं की बुरे वक़्त में उनका सहयोग ज़रूर मिलेगा। हमेशा, हर वक़्त और हर दिन किसी और पर निर्भर रहना हमारी कमजोरी को दर्शाता है। इसलिए जो लोग स्मार्ट होते हैं वो बहुत ज्यादा किसी पर निर्भर नहीं रहते।

4. वो अपनी प्रोब्लम्स से दूर नहीं भागते

ऐसा कोई भी व्याक्ति नहीं जिसके पास प्रोब्लम्स न हों, छोटी या बड़ी हर किसी के पास कोई न कोई प्रॉब्लम होती ही है, भले ही वो नौकरी को लेकर हो, पैसों को लेकर हो, परिवार से जुडी प्रॉब्लम हो या फिर हेल्थ की। स्मार्ट लोग ऐसे प्रॉब्लम से दूर नहीं भागते बल्कि एक क्रिएटिव तरीके से इसे सोल्व करने की कोशिश करते हैं। उनके अन्दर हिम्मत होती है अपने प्रॉब्लम से लड़ने की और वो हर एक प्रॉब्लम को कुछ नया सीखने के लिए एक अवसर के रूम में देखते हैं।

5. वो नेगेटिविटी पर फोकस नहीं करते

स्मार्ट लोग इस बात को समझते हैं कि उनके थॉट्स पर उनका ही कण्ट्रोल है इसलिए वो सिर्फ और सिर्फ पॉजिटिव चीज़ों पर ही फ़ोकस करते हैं। स्मार्ट लोग पूरे दिल से इस बात को मानते हैं कि जो वो सोच सकते हैं उसे वो कर भी सकते हैं। वो जानते हैं की ज़िन्दगी और भी ख़ूबसूरत और आसान हो जाती है जब वो अपनी काबिलियत का इस्तेमाल सपने देखने में और उस सपने को पूरा करने के लिए मेहनत करने में करते हैं।

6. दुसरे लोग उनके बारे में क्या सोचते हैं, वो इसकी परवाह नहीं करते

स्मार्ट लोग अपनी लाइफ की खुशियों और उददेश्यों में दुसरे लोगो के नेगेटिव ओपिनियन को बाधा नहीं बनने देते। दुनिया में नफरत फैलाने वाले लोगों की कमी नहीं है और न ही ऐसे लोगों की कमी है जो लोग सिर्फ आलोचना करना जानते हैं। लेकिन स्मार्ट लोग ऐसे लोगों को हमेशा इगनोर कर देते हैं क्यूंकि ऐसे लोगों का उनकी लाइफ में कोई महत्त्व नहीं है।

7. वो तुरंत किसी परिणाम की अपेक्षा नहीं करते

स्मार्ट लोग ऐसा मानते हैं लाइफ में कुछ भी अच्छा हासिल करने के लिए थोड़े सब्र की ज़रुरत होती ही है। और अच्छी चीज़े उन्ही को मिलती हैं जो इंतज़ार करना जानते हैं। हम में से ज़्यादातर लोग चाहते हैं कि वो जो भी करे उसका परिणाम जल्दी मिल जाए, जबकि ऐसा होता नहीं। लाइफ में कुछ बड़ा हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत के साथ थोडा इंतज़ार भी करना पड़ता है और स्मार्ट लोग इस बात को अच्छे से समझते हैं।

8. वो स्वयं को सबसे बढ़ कर नहीं समझते 

शायद ये स्मार्ट लोगों की सबसे बड़ी खासियत है कि वो खुद को सबसे बढ़ कर नहीं समझते हैं। वो जानते हैं ये दुनिया उनके चारो ओर नहीं घूम रही। वो अच्छाई की शक्ति को समझते हैं और वो इस बात को मानते हैं कि एक मुस्कराहट जैसी सरस और निस्वार्थ काम करने का जज़्बा किसी अजनबी या फिर उनकी ज़िन्दगी बदल सकती है।

  Subscribe  
newest oldest most voted
Notify of
Kusum Dubey

Kya bat he, awesome. I’m smart 😀

Ishita Bhagwat

Worth reading. Good article.

Ashok Kumar

Mind blowing!