जब बात एक सही जीवन साथी चुनने की होती है तो अक्सर लोग यही देखते हैं कि क्या उनमें वो सारी खूबियाँ हैं जो एक सही जीवन साथी में होनी चाहिए? लेकिन सवाल फिर यही आता है कि एक सही जीवन साथी में कौन-कौन सी खूबियाँ होनी चाहिए? कुछ लोग तो अपनी सुविधा के अनुसार अपनी एक लिस्ट भी बना लेते हैं कि वास्तव में उन्हें अपने जीवन साथी से क्या चाहिए. उदाहरण के लिए – गुड लूकिंग, स्मार्ट, केयरिंग, एक अच्छी फॅमिली, अच्छी इनकम, स्टैण्डर्ड लाइफस्टाइल, 2 बच्चे इत्यादि.

मैं समझता हूँ इन चीज़ों को अपनी लिस्ट में शामिल करना कोई गलत बात नहीं. लेकिन सिर्फ इन्ही चीज़ों को आधार बना कर एक जीवन साथी या लाइफ पार्टनर का चुनाव करना शायद गलत हो सकता है. मैं ऐसा क्यूँ कह रहा हूँ ये बहुत जल्द ही आपको भी समझ आ जाएगा.

चलिए अब बात करते हैं उन 3 खूबियों की जो एक जीवन साथी में ज़रूर होनी ही चाहिए.

1. भावनात्मक स्थिरता

जीवन साथीभावनात्मक स्थिरता का क्या मतलब क्या होता है, इस बात को ठीक से समझना ज़रूरी है लेकिन इससे पहले ये जान लेना भी ज़रूरी है कि भावनात्मक स्थिरता की ज़रुरत दोनों ही लोगो में समान रूप से होनी चाहिए.

भावनात्मक स्थिरता क्या है? भावनात्मक स्थिरता का मतलब ये है कि कोई ऐसा जो अपनी बातों को स्पष्ट और शांतिपूर्ण ढंग से कहे, जो अपनी कही गयी बातों के अनुसार ही चले, जो अपनी गलतियों की ज़िम्मेदारी स्वयं ले, अपनी गलतियों को स्वीकारे और सुधार करे,  जो अपनी असफलताओं से निराश न हो, जिसके मन में किसी के लिए ईर्ष्या न हो और न ही बदले की भावना हो, कोई ऐसा जो अपनी जिम्मेदारियों से बचने के लिए बहाने न बनाए. कोई ऐसा जो बिन कहे ही आपके मन की बात जान ले.

जो नाराज़गी में भी रिश्तों का सम्मान करे, कोई ऐसा जो दूर जाकर भी हमेशा दिल के पास रहे. यही तो यही भावनात्मक स्थिरता.

2. गंभीरता

जीवन साथीगंभीर रहने से हमारा ये मतलब बिलकुल भी नहीं है की हर वक़्त सीरियस रहा जाए या हसी मज़ाक भी न किया जाए. समाज में ज्यादातर लोग ऐसे लोगों को ही बुद्धिमान समझते हैं जिनके पास ढेर सारी नॉलेज हो या उन्हें जो बहुत ज्यादा पढ़े लिखे हों. लेकिन हमें लगता है कि कोई व्यक्ति कितना बुद्धिमान है इस बात का पता उसकी नॉलेज या पढ़ाई-लिखाई से नहीं बल्कि उसकी सोच से पता चलता है.

गंभीरता एक ऐसी खूबी है जो ज़िन्दगी से जुड़ी समस्याओं को समझने में और उनका समाधान निकालने में हमारी मदद करता हैं. ऐसे व्यक्ति जिनमें गंभीरता नहीं है उससे एक अच्छी ज़िन्दगी या एक अच्छे रिश्ते की उम्मीद नहीं की जा सकती.

3. फ्रेंडशिप – आपसी समझ

लाइफ पार्टनरकिसी भी रिश्ते में फ्रेंडशिप या आपसी समझ की आवश्यकता सबसे अधिक होती है. भले ही वो कोई भी रिश्ता हो. क्यूंकि दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जो किसी भी रिश्ते से ज्यादा मजबूत होता है. दोस्ती का रिश्ता इसलिए भी ख़ास होता है क्यूंकि दोस्त बेझिझक अपनी हर बात एक दुसरे से कह देते हैं.

फ्रेंड वही है जो आपके अधूरे काम को पूरा करने में आपकी मदद करे, जो बुरे वक़्त में भी आपके चेहरे पे मुस्कान लाये, जिसके साथ आप हमेशा सहज महसूस करें. एक सच्चा दोस्त या फ्रेंड वही है जो आपकी सारी अच्छाइयों और सारी बुराइयों को जानते हुए भी, निस्वर्थ मन से आपको प्यार करे.

रूपये पैसे धन दौलत से तो अपनी ज़रूरतें पूरी की जा सकती हैं. लेकिन ये खूबियाँ कुछ ऐसी हैं जिन्हें खरीदा नहीं जा सकता. अगर ये सारी खूबियों एक जीबन साथी में हों यकीन मानिए ज़िन्दगी बेहद आसान हो जायेगी.

READ NEXT: 10 खूबियाँ जो सिर्फ इमोशनली इंटेलिजेंट लोगों में होती हैं

  Subscribe  
newest oldest most voted
Notify of
Luv Kush

Sab hone chahiye ji